मंगलवार, 26 अक्तूबर 2010

ये एक चुनौती है खुली चुनौती, है कोई ??It's an open Challenge??

ये एक चुनौती है खुली चुनौती है कोई ?? It's an open Challenge??




 .9 9 9 9 5 5 5 5 3 3 3 3 1 1 1 1. 


इनमे से कोई छह अंक (नम्बर्स) को ले कर टोटल यानी जोड़ 21 करो ?
 ये एक चुनौती है खुली चुनौती, है कोई??



20 टिप्‍पणियां:

आशीष मिश्रा ने कहा…

3 + 3 + 3 + 1 + 11 = 21

प्रकाश गोविन्द ने कहा…

5 x 3 + 3 + 1 + 1 + 1 = 21

प्रकाश गोविन्द ने कहा…

5x3+3+1+1+1 = 21
इसके अलावा
इस जवाब पर भी गौर कीजिये :

9+5+3+3+1 = 21

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) ने कहा…

हम तो डर गये आपकी चुनौती से!
बहुत-बहुत बधाई!
--
आपकी चर्चा तो हमने
बाल चर्चा मंच पर भी कर दी है!
http://mayankkhatima.blogspot.com/2010/10/25.html

इंदु अरोड़ा ने कहा…

@प्रकाश गोविन्द जी
9+5+3+3+1 ये पांच अंक है प्रश्न ध्यान से पढ़े
x,-,/का प्रयोग वर्जित है
@आशीष मिश्रा जी
कोई दो अंक ऐसे 11 बीच में बिना किसी चिन्ह के नहीं लिखे जा सकते है यानि हर अंक के बाद चिन्ह लगाना अनिवार्य है

रावेंद्रकुमार रवि ने कहा…

----------------------------
5 + 5 + 5 + 5 + 1 = 21
----------------------------
सरस पायस की तरफ से

रावेंद्रकुमार रवि ने कहा…

----------------------------------
5 + 5 + 5 + 5 + 1 = 21
----------------------------
सरस पायस की तरफ से

रावेंद्रकुमार रवि ने कहा…

अच्छा ब्लॉग है!

प्रकाश गोविन्द ने कहा…

5 x 3 + 3 + 1 + 1 + 1 = 21

इसमें क्या कमी है इंदु जी ?

प्रकाश गोविन्द ने कहा…

बहुत-बहुत माफिऊ चाहता हूँ इंदु जी
सवाल समझाने में बेहद जल्दबाजी की !
अब जरा आखिरी बार इस पर गौर फरमाईये :

9 + 9 + 3/3 + 1 + 1 = 21

प्रकाश गोविन्द ने कहा…

बहुत-बहुत माफ़ी चाहता हूँ इंदु जी !
बहुत ही जल्दबाजी की मैंने सवाल को समझाने में !

अब जरा गौर फरमाईये :

9 + 9 + 3/3 + 1 + 1 = 21

प्रकाश गोविन्द ने कहा…

आपने कहा की divide भी नहीं करना है
तो फिर इसको देखिये :

9.9 +1.1 + 5 + 5 = 21

Ashish Shrivastava ने कहा…

जब कभी भी विषम अंको को सम संख्या बार (छः विषम संख्या का योग) जोडा जाएगा योग हमेशा सम आएगा ! आपके प्रश्न मे सभी अंक विषम है और आप छः विषम अंको का योग करने कह रही है जो हमेशा सम आएगा ! २१ एक विषम संख्या है ! अतः यह असम्भव है !

आशीष मिश्रा ने कहा…

(3+3+1)(1+1+1)

ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ ने कहा…

ये चुनोती तो हल हो गई, अगली की प्रतीक्षा रहेगी।

इंदु अरोड़ा ने कहा…

प्रकाश जी का अंतिम जवाब ही इस चुनौती का हल है जी
Ashish Shrivastava की व्याख्या एक दम सही है
सभी का धन्यवाद

Coral ने कहा…

अच्छा हुआ मै आने तक सुलाज गयी वर्ना :)

-----------------
फिर से हरियाली की ओर........support Nuclear Power

प्रकाश गोविन्द ने कहा…

हिप हिप हुर्रे .........
वाह ...मजा आ गया
चलिए आखिरकार मेरी मेहनत बेकार नहीं गयी.
-
-
उम्मीद है आगे से आप कभी चुनौती शब्द का प्रयोग नहीं करेंगी ? मुझे इस शब्द से "एलर्जी" है :)
इसको सुनते ही मेरे अन्दर सनक सवार हो
जाती है.

आशीष मिश्रा ने कहा…

आदरणीय श्री प्रकाश गोविंद जी को ढेरों बधाई स्वीकृत हों..........

रावेंद्रकुमार रवि ने कहा…

9.9 और 1.1 को अंक नहीं कहा जा सकता!
ये संख्याएँ हैं!